indianews24x7

indianews24x7

राजस्थान सियासी दंगल: अब कांग्रेस से जुड़े निर्दलीय व ब.स.पा. विधायको ने ठोकी ताल

राजस्थान में उठा सियासी घमासान थमने का नाम नही ले रहा है। गहलोत – सचिन का मंत्रिमंडल विवाद अभी सुलझा ही नही था कि कांग्रेस में जुड़े निर्दलीय व ब.स.पा. विधायको ने भी सियासी दंगल में ताल ठोक दी।
मौजूदा सियासी हालातो को लेकर महामंथन के नाम पर ये विधायकगण 23 जून को जयपुर के अशोका होटल में जुटेंगे।
सियासी जानकारों के अनुसार ये महामंथन सचिन पायलट को और ज्यादा कमजोर करने के उद्देश्य से रखा गया है।
इन विधायकों का तर्क है कि जब सचिन पायलट ने सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की थी तब इन्ही निर्दलीय व ब.स.पा. विधायको ने सरकार बचाई थी, अब जिन विधायकों ने सरकार बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई उन्हें साइड लाइन करके जो विधायक सरकार को अस्थिर करने की साजिश कर रहे थे, कांग्रेस आलाकमान उन विधायकों को संतुष्ट करने की मंशा जाहिर कर तुष्टिकरण की नीति अपना रही है।
गौरतलब है कि सचिन पायलट हाल ही में दिल्ली दौरा भी करके आये थे जहां उनकी कांग्रेस के किसी बड़े नेता से मुलाकात तो नही हो पाई सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस आलाकमान ने उन्हें 3 मंत्रीपद देने की पेशकश की जिस पर राजी होने पर ही आगे की बातचीत होने के संकेत दिए थे।
सचिन पायलट दिल्ली से तो बैरंग ही लौट आये थे बरहाल जयपुर आने के बाद आज सुबह प्रभारी अजय माकन को अपने गुट के लिए 6 मंत्रिपद की खबरे भी सियासी हलकों में चर्चा का विषय बनी हुई है।
बरहाल मौजूदा हालातो को देखते हुवे राजस्थान का सियासी संकट हल होता तो नही दिख रहा है। जहा एक ओर सचिन पायलट अपने गुट के लिए 6 मंत्रिपद पर अड़े है वही अब निर्दलीय व ब.स.पा. विधायको ने भी ताल ठोक दी और इन सब से परे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 2 महीनों के राजनैतिक क्वारन्टीन की घोषणा कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

Live Updates COVID-19 CASES