indianews24x7

indianews24x7

इतिहास रचने जा रहा है, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान

1 min read

राजस्थान में टूटेगा 64 साल का रिकॉर्ड:RBSE के इतिहास में पहली बार तीनों संकाय के रिजल्ट आज एक साथ घोषित होंगे; पासिंग परसेंटेज भी बढे़गा

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड शनिवार शाम चार बजे 12वीं आर्टस, कॉमर्स व साइंस संकाय के रिजल्ट घोषित करेगा। रिजल्ट को लेकर करीब 9 लाख विद्यार्थिंयों का इंतजार खत्म होगा। परिणाम की घोषणा शिक्षा मंत्री गोविन्दसिंह डोटासरा व बोर्ड अध्यक्ष डी.पी. जारोली करेंगे।
काेरोना के चलते बदले हालात में बोर्ड के 64 साल के इतिहास में यह पहला मौका है, जब तीनों संकाय के रिजल्ट साथ घोषित हो रहे हैं। वहीं अब तक हर साल की तुलना में पासिंग प्रतिशत भी इस साल ज्यादा रहेगा। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की स्थापना 4 दिसंबर 1957 को हुई थी।

कोरोना के चलते परीक्षा नहीं हो पाई और मार्क्स के लिए राज्य सरकार की ओर से कमेटी का गठन किया। कमेटी के बताए फार्मूला के आधार पर स्कूलों ने अपना रिजल्ट तैयार किया। इस वर्ष 12वीं परीक्षा के लिए कुल 8 लाख 82 हजार 112 छात्रों ने आवेदन किए। 12वीं मूक बधिर परीक्षा के लिए 809 छात्रों ने और वरिष्ठ उपाध्याय परीक्षाओं के लिए 3,823 छात्रों ने आवेदन किए।
इनका परिणाम रुकेगा

जिन स्कूलों ने बच्चों के मार्क्स नहीं भेजे या फिर अन्य बोर्ड से आए विद्यार्थियों ने अपना पात्रता प्रमाण पत्र नहीं दिया, या फिर किसी का बोर्ड काे शुल्क नहीं मिला है, तो ऐसे विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम रोका जा सकता है।

74 हजार 221 परीक्षार्थी हुए थे फेल

गत वर्ष 2020 में जारी किए गए 12वीं कक्षा के परिणाम में 8 लाख 52 हजार विद्यार्थियों में से 74 हजार 221 विद्यार्थी पास नहीं हो सके। 12वीं आर्टस में 53 हजार 99, कॉमर्स में 1989 और विज्ञान में 19 हजार 73 विद्यार्थी फेल हुए।
12वीं कला संकाय के 5 लाख 80 हजार 725 शामिल हुए और 5 लाख 26 हजार 726 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए। परीक्षा परिणाम 90.70 फीसदी रहा।
12वीं कॉमर्स का परिणाम 94.49% परिणाम रहा। कुल 36,068 विद्यार्थियों में से 34,079 विद्यार्थी उत्तीर्ण घोषित किए गए हैं।
12वीं साइंस वर्ग में 2 लाख 37 हजार 305 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा दी। इनमें से कुल 2 लाख 18 हजार 232 स्टूडेंट्स पास हुए। परीक्षा परिणाम 91.96 फीसदी रहा।
10वीं का रिजल्ट बाद में

10वीं की परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले 12 लाख 14 हजार 512 परीक्षार्थी हैं। 10वीं मूक-बधिर परीक्षा के लिए 1,763 छात्रों ने आवेदन किए। 10वीं वोकेशनल परीक्षा के लिए 48 हजार 846 परीक्षार्थियों ने आवेदन किए। प्रवेशिका परीक्षा के लिए 8,355 छात्रों ने आवेदन किए। इसका रिजल्ट बोर्ड बाद में घोषित करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

code

Live Updates COVID-19 CASES